सिर की जूं (Head Louse) से छुटकारा पाएं, बस इन आसान तरीकों से।

सिर की जूं (Head Louse) एक प्रकार का परजीवी हैं। जूँ का संक्रमण होना बहुत ही आम बात हैं और यह बहुत लंबे समय से चलता आ रहा हैं। सिर में जुओं के संक्रमण का पता सिर में अधिक खुजली होने से लग जाता हैं। यह बहुत आसानी से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंच सकती हैं। जूं संक्रमित व्यक्ति से अन्य इन्सान तक व्यक्तिगत संपर्क, कंघी, ब्रश, टोपी या अन्य इसी तरह के कारकों से फैलती हैं।

Life’s Fact - सिर की जूं (Head Louse), जूँ के संक्रमण, जूँ का संक्रमण, Nit, Nymph, लाइस शैंपू, एंटी-लाइस शैंपू, एंटी लाइस क्रीम वाॅश, लाइस ट्रीटमेंट काॅम्ब

जूँ के संक्रमण के अधिक मामले छोटे बच्चों में पाएं जाते हैं, जो स्कूल जाते हैं। ऐसे बच्चों से उनके घर तक जूं फैलने के मामले भी ज्यादा बढ़ते हैं। इस माहौल में रहने वाले इन्सान जूओं की समस्या से ज्यादा परेशान रहते हैं। Lifes Fact के इस लेख से आज हम जानेंगे की सिर की जूं से छुटकारा पाने के लिए क्या करें।


इन तरीकों से घर बैठे छुटकारा पाएं सिर की जूओं से -

  1. Jungle लाइस शैंपू - एक बार में इस्तमाल से 100% जूँ और अंडे को समाप्त करता हैं। यह अंडों को घुटन और डिहाइड्रेट करता हैं। जूओं से तुरंत छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार के लिए यह बहुत उपयोगी हैं। (अभी यहां से खरीदे)

  2. Mediker एंटी-लाइस शैंपू - यह 50 सालों से विश्वसनीय हैं। प्राकृतिक रूप से 4 धुलाई के साथ बिना किसी दुष्प्रभाव से जूं को निकाले। (अभी यहां से खरीदे)

  3. लाइस ट्रीटमेंट काॅम्ब - जूं की समस्या से छुटकारा पाने के लिए कंघी अब आप घर बैठे भी प्राप्त कर सकते हैं। जिसके नियमित उपयोग से आप जूओं से राहत पा सकते हो। (अभी यहां से खरीदे)

  4. Hairshield एंटी लाइस क्रीम वाॅश - जूं और लीख को हटाने और उन्हें बढ़ने से रोकने के लिए ये क्रीम बहुत उपयोगी हैं। यह जूओं को हटाने के साथ त्वचा को नमी देता और बालों को भी पूर्ण रूप से पोषण प्रदान करता हैं। (अभी यहां से खरीदे)

  5. Medilice एंटी लाइस क्रीम - यह डबल एक्शन फॉर्मूला के साथ काम करते हुवे सिर से जूँ और उसके अंडो को निकाले और निर्जलित करता हैं। (अभी यहां से खरीदे)


उपर दी गई सामग्री का उपयोग कर आप घर बैठे बहुत आसानी से जूं की समस्या से निजात पा सकते हो। इनमे से कुछ चीजें ऐसी हैं, जो एक बार में ही आपके सिर की जूओं को मारकर उनका पूरी तरह से सफाया करें। जूँ मारने के घरेलू इलाज में ये ऊपरी नुस्खे बहुत कारगर और आसान हैं।


यहां समझे जूओं के जीवन चक्र के बारे में -

जूं का जीवन चक्र तीन चरण में पूरा होता हैं, जो कुछ इस प्रकार से होता हैं।


  1. पहला चरण - इस दौरान ये अंडे के रूप में होती हैं, जिसे Nit कहते हैं। जिन्हे लोग आसानी से देख नहीं पाते और उनकी पहचान को ले कर भी भ्रम में रहते हैं। क्योंकि इनका आकार 2-3 मिमी. लम्बा होने के साथ इनका रंग सफेद पीला होता हैं, जिसे लोग अक्सर पानी की बूंद या डैंड्रफ मान लेते हैं।

  2. दूसरा चरण - यह लगभग वयस्क जूं की तरह ही नजर आता हैं। लेकिन इसका आकर वयस्क से कम होता हैं। इसे Nymph कहते हैं और यह मनुष्य का खून चूसना शुरू कर देते हैं, भोजन के रूप में।

  3. तीसरा चरण - इस चरण में जूँ वयस्क हो जाती हैं। इसका रंग हल्का भूरा हो जाता हैं और छह पैर होते हैं। ये इन्सान के सिर पर 30 दिन तक रह सकती हैं। इसी अवस्था में मादाएं अंडे देती हैं।


जूं से पूर्ण रूप से निजात पाने के लिए अपने आस - पास के पूरे माहौल में साफ - सफाई नियमित रूप से करनी चाहिए। खासकर रोगी के कपड़ों को गर्म पानी से धोना चाहिए और उसे साफ और सुखी कंघी का इस्तमाल करना चाहिए।


0 Comments:

Post a Comment