आपकी दिनचर्या चयापचय की दर को कम कर सकती हैं।

चयापचय का उच्च रहना ना सिर्फ वजन कम करता हैं, बल्कि उसे बढ़ने से भी रोकता हैं। यानि हाई मेटाबॉलिज्म इन्सान को ना सिर्फ मोटा होने से रोकता हैं, इसके साथ आपका मोटापा घटाता भी हैं। इसे पढ़ कर आपके मन में भी यह सवाल जरूर आया होगा कि अगर चर्बी कम करना इतना आसान हैं तो भी लोग मोटे कैसे हो जाते हैं।

सामान्य जीवन की कई गतिविधियां हमारे चयापचय को धीमा कर देती हैं, बिगड़ी हुई दिनचर्या, कम मात्रा में कैलोरी लेना आपके मेटाबॉलिज्म को कम कर सकता हैं, कम कैलोरी लेना आपके चयापचय को धीमा कर देता हैं, प्रोटीन का अधिक सेवन, आपको वजन घटाने के दौरान चयापचय की दर को नियंत्रित करने में मदद करता हैं, कम नींद आपके चयापचय की गति को भी कम कर देती हैं, Lifes Fact

इसका मुख्य कारण हैं आपकी बिगड़ी हुई दिनचर्या। सामान्य जीवन की कई गतिविधियां हमारे चयापचय को धीमा कर देती हैं। जिसकी वजह से वजन बढ़ने लगता हैं। Lifes Fact की इस पोस्ट से जानेंगे की आखिर कौनसी वो चार गलतियां हैं, जो आपके मेटाबॉलिज्म को धीमा कर देती हैं।


अपने मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करें, इन 2 आसान तरीकों से।


  1. कम मात्रा में कैलोरी लेने से - कम मात्रा में कैलोरी लेना आपके मेटाबॉलिज्म को कम कर सकता हैं। हालांकि आपको वजन कम करने के लिए कम कैलोरी लेने की सलाह जरूर दी जाती हैं। लेकिन अच्छे परिणाम के चक्कर में बहुत कम कैलोरी का सेवन आपके लिए चयापचय से सम्बन्धित समस्याएं खड़ी कर सकता हैं। इसलिए लंबे समय तक कम कैलोरी लेना आपके चयापचय को धीमा कर देता हैं।

  2. कम मात्रा में प्रोटीन का सेवन - हमें प्रतिदिन अपने किलोग्राम में ज्ञात वजन की संख्या जितने ग्राम प्रोटीन की जरूरत होती हैं। यानि अगर आपका वजन 60 किलोग्राम हैं, तो आपको प्रतिदिन 60 ग्राम प्रोटीन की आवश्यकता होती हैं। यह आपकी वजन दर को नियंत्रित बनाए रखता हैं। प्रोटीन का अधिक सेवन, आपको वजन घटाने के दौरान चयापचय की दर को नियंत्रित करने में मदद करता हैं।

  3. दिन में अधिक समय बैठे रहना / निष्क्रिय रहना - अधिकतर लोगों की दिनचर्या में एक जगह लंबे समय तक बैठ कर काम करना शामिल हैं। ऐसे लोग की शारीरिक क्रिया दिन में न के बराबर होती हैं। इस तरह के लोग पर्याप्त मात्रा में प्रतिदिन कैलोरी बर्न नहीं कर  पाते। इस तरह यह आपके मेटाबॉलिज्म को धीमा कर देता हैं।

  4. पर्याप्त नींद ना लेना - यह बात तो सब लोग जानते और सुनते हैं कि अच्छी सेहत के लिए अच्छी नींद बहुत जरूरी होती हैं। आवश्यकता से कम सोना आपको दिल की बीमारी, डायबिटीज के अलावा डिप्रेशन जैसी गम्भीर बीमारियां दे सकता हैं। कम नींद आपके चयापचय की गति को भी कम कर देती हैं। इसके लिए हमेशा रात में अधिक नींद ले, क्योंकि दिन की बजाय रात में सोना ही हमारी सेहत के लिए फायदेमंद हैं।


अपनी दिनचर्या में शामिल उपरोक्त गतिविधियां आपके मेटाबॉलिज्म को धीमे करके आपके लिए मोटापे जैसी समस्या का कारण बन सकती हैं। इन्हीं पर नजर रख कर आप आसानी से अपने मोटापे रहित स्वस्थ जीवन का आंनद ले सकते हैं। 


0 Comments:

Post a Comment