जानें पथरी के घरेलू (अश्मरी) उपचार।

पथरी के आकार और स्थिति के हिसाब से उसका उपचार होता हैं, यह बात तो हम सब जानते हैं। आज हम Lifes Fact में जानेंगे ऐसे ही घरेलू उपायों के बारे में जो हमारी पथरी की समस्या को जड़ से मिटाने में मदद करें। पथरी या अश्मरी निर्माण किडनी में खनिज और लवणों के एकत्रित होने से होता हैं। (पथरी के बारे में जानकारी)

ऐसी स्थिति में शरीर में प्रचुर मात्रा में तरल पदार्थ पीना गुर्दे में से ना केवल पथरी को निकालने में मदद करता हैं बल्कि उसे बनने से भी रोकता हैं। अधिक मात्रा में पानी पीने से आपके शरीर के विषाक्त पदार्थ मूत्र के साथ बाहर निकलते हैं। यह पथरी को भी छोटे टुकड़ों में तोड़ कर, पेशाब के साथ बाहर निकालने का कार्य करता हैं।


पथरी के घरेलू उपचार में इन पेय पदार्थों के उपयोग से आपको बेहतर परिणाम मिलेंगे। (किडनी में पथरी के लक्षण)


  1. पानी - जब मूत्र मार्ग से पथरी का निष्कासन हो रहा होता हैं तो उस समय अच्छी मात्रा में पानी का सेवन उस किडनी पत्थर को निकालने में मदद करता हैं। ऐसी स्थिति में दिन में कम से कम 12 ग्लास पानी का सेवन करें। 

  2. नींबू का रस - नींबू में सिट्रट एसिड (Citrate Acid) होता हैं, जो कैल्शियम से बनने वाली इस पथरी को तोड़ता हैं। यह अश्मरी को बनने से भी रोकता हैं। इसके साथ यह विटामिन सी भी प्रदान करता हैं और बैकटीरिया पर भी नियंत्रण रखता हैं।

  3. तुलसी का रस - एसिटिक एसिड से भरपूर तुलसी का रस पथरी को तोड़ने और उसके दर्द को कम करने में मदद करता हैं। इसके अलावा इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो पाचन और सूजन संबंधित समस्या में फायदेमंद रहते हैं।

  4. सेव का सिरका (एप्पल साइडर विनेगर) - इसमें भी एसिटिक एसिड पाया जाता हैं, जो पथरी को तोड़ने में मदद करता हैं। यह दर्द से भी राहत दिलाता हैं। 2 बड़े चम्मच सेब के सिरके को लगभग 250 मिलीलीटर पानी में मिलाकर एक मिश्रण तैयार कीजिए। अब इसका सेवन पूरे दिन करें। (मधुमेह के रोगी इसका प्रयोग चिकित्सक के परामर्श के अनुसार ही करें)

  5. अजवाइन का रस ‌- यह शरीर से उन विषाक्त पदार्थों को निकालता हैं, जो पथरी का निर्माण करते हैं।

  6. अनार का रस - किडनी की कार्य क्षमता को सुधारने के लिए अनार का जूस उपयोगी माना जाता हैं। यह किडनी से सारी गंदगी निकाल कर उसे साफ और स्वस्थ बनाता हैं। पथरी के निर्माण और विकास को रोकने में यह काफी मददगार साबित होता हैं। यह पेशाब में अम्ल के स्तर को नियंत्रित करता हैं।

  7. व्हीटग्रास जूस - दिन में लगभग 250 मिलीलीटर व्हीटग्रास जूस पीना स्वास्थ्य के लिए उपयोगी रहता हैं। यह पथरी को तोड़ता हैं और मूत्र के बहाव को बढ़ाता हैं। इसके अलावा किडनी को भी साफ रखता हैं।


Note - पथरी की समस्या से निजात पाने के लिए उपरोक्त बताएं गए घरेलू उपचार, डॉक्टर की सलाह के अनुसार करें। अन्यथा यह आपके लिए अन्य समस्याओं का कारण बन सकते हैं।

0 Comments:

Post a Comment